आज की smart बहु

"आज की smart बहु"
(पढ़ लो... पर... पर... हँसना मना है)
एक बहु और एक सास,
और उनके पुत्र श्री प्रकाश,
बैठे थे उदास!
.
अचानक माँ ने कहा -
" बेटा कल्पना करो कि
हम और बहू दोनों गंगा जी नहाने जाएँ,
हमारा पैर फिसल जाए,
.
और हम दोनों डूबने लग जाएँ,
तो तू अपना धरम कैसे निभाएगा?
.
डूबती हुई माँ और बीबी में किसको बचाएगा??"
मेहरबान ! कदरदान ! साहिबान !
लड़का था परेशान!
उसके दिमाग में कोई युक्ति नहीं आई!
.
क्योंकि,
एक तरफ था कुआँ
और दूसरी तरफ थी खाई!
.
अचानक बीबी ने मुँह खोला
और यूँ बोली -
"हे मेरे नव-पतिदेव,
आप अपना धर्म
श्रवण कुमार की तरह निभाना।
.
डूबती हुई माँ और बीबी में
अपनी माँ को ही बचाना।
माँ की ममता की लाज को मत लजाना।
.
अरे हमारा क्या है
हम तो जवान हैं,
मौत से भी जूझ जाएँगे
और हमें बचाने के लिए
तो
जिन्हे तैरना नहीं आता
साले वो भी कूद जाएँगे।"

badge